विवेकानंद अस्पताल: पैसे के लिए इलाज रोका, मौत !, जाँच की मांग

अमिताभ ठाकुर तथा डॉ नूतन ठाकुर ने विवेकानंद अस्पताल, लखनऊ द्वारा इलाज में घोर लापरवाही तथा अमानवीयता के कारण दीपक शुक्ला निवासी ग्राम देवली पोस्ट साहबगंज जिला प्रतापगढ़ की मौत होने के आरोपों की जाँच की मांग की है.

उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक तथा अन्य को भेजी शिकायत में उन्होंने कहा कि जानकारी अनुसार दीपक शुक्ला का लगभग 3 महीने से विवेकानंद हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था किन्तु अस्पताल द्वारा लगातार पैसे के नाम पर उनके परिवार वालों को काफी परेशान किया जा रहा था. कई बार पैसे के अभाव में समय से दवा और इलाज तक नहीं किया गया. कल 04 जून 2022 की शाम में अस्पताल प्रशासन ने एक बार फिर पैसे के अभाव में इजाल रोका. रोगी के घरवालों ने उन्हें आश्वस्त किया कि वे शीघ्र पैसे का इंतजाम कर अस्पताल को दे देंगे किन्तु इसके बाद भी अस्पताल ने दीपक शुक्ला का इलाज पूरी तरह रोक दिया और लाइफ सपोर्ट सिस्टम भी हटा लिया, जिसके कारण रात लगभग 10 बजे उनकी मौत हो गयी.

अमिताभ और नूतन ने इसे मेडिकल एथिक्स के उल्लंघन के साथ आपराधिक कृत्य बताते हुए जाँच व कार्यवाही की मांग की है.