Wednesday, July 24, 2024
उत्तर प्रदेशगुजरातदिल्लीदेशमहाराष्ट्रराज्यविदेश

11 से 14 अप्रैल तक चले टीका उत्सव में 1.28 करोड़ वैक्सीन की दी गई डोज

नई दिल्ली: देश में कोरोना को हराने के लिए मनाए गए टीका उत्सव के दौरान आयोजित टीकाकरण कार्यक्रम के तहत टीके के कुल 1.28 करोड़ डोज दिए गए। 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक चले टीका उत्सव में सभी राज्यों ने उत्साह दिखाया और औसतन 35 लाख टीका रोजाना लगाया गया। रोजाना करीब 45,000 केंद्र पर टीकाकरण कार्यक्रम किया गया, जिसके तहत लाभार्थियों ने टीका लगवाया। टीका लगाने में महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तरप्रदेश सबसे आगे रहे।

गौरतलब हो, कोरोना महामारी को हराने की दिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भर में 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक टीका उत्सव मनाने की बात कही। इस दौरान सभी 45 साल से ऊपर से लोगों को टीका लगवाने के लिए आगे आने का आह्वान किया गया। इसके साथ ही देश में कुल टीकाकरण 11 करोड़ 43 लाख का आंकड़ा पार कर गया है।

सबसे तेजी से 10 करोड़ टीकाकरण करने वाला देश

वहीं एक दिन पहले पीएम मोदी ने देश में कोविड-19 की स्थिति और टीकाकरण अभियान पर राज्यपालों के साथ बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार टीकों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने इस बात को प्रमुखता से सामने रखा कि भारत 10 करोड़ टीकाकरण करने तक सबसे तेजी से पहुंचने वाला राष्ट्र बन गया है। बीते चार दिन चले टीका उत्सव के सकारात्मक प्रभाव को देखते हुए, उन्होंने कहा कि इस अवधि में, टीकाकरण अभियान को विस्तार मिला है और नए टीकाकरण केंद्र भी खोले गए हैं।

ट्रैकिंग, ट्रेसिंग और टेस्टिंग पर जोर

वैक्सीनेशन के साथ ही पीएम ने ट्रैकिंग, ट्रेसिंग और टेस्टिंग बढ़ाने के महत्व पर जोर दिया, और कहा कि आरटीपीसीआर टेस्ट को 60 प्रतिशत से बढ़ाकर 70 प्रतिशत करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करना प्रासंगिक है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच की जाए।