Thursday, July 25, 2024
उत्तर प्रदेशक्राइम

दुष्कर्म के मुकदमे से बचने के लिए दरोगा ने रचाई शादि

बरेली। इज्जतनगर थाने में तैनात एक दरोगा ने दुष्कर्म के मुकदमे से बचने के लिए युवति के साथ रचाई शादि। युवति ने आरोप लगाया कि दरोगा ने उसे शादि का झांसा दे उसके साथ दुष्कर्म कर शादि करने के बाद छोड़ दिया। युवति ने आरोपित के खिलाफ महिला थाने में मुकदमा दर्ज करा है साथ ही महिला ने आरोपित द्वारा पांच लाख रुपये मांगे जाने का भी आरोप लगाया है। महिला ने एस.एस.पी अमित पाठक से मामले की शिकायत की है।

महिला गोरखपुर की रहने वाली है। और दिल्ली मे रहकर नौकरी करती है साल 2018 में फेसबुक के जरिए दोनों के बीच बातचीत होना शरु हुई और कुछ समय बाद दोनों में प्रेम संबंध हो गए। इसके बाद दरोगा ने महिला के मना करने के बाद उसे शादि का झांसा दे कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया। वर्ष 2020 में महिला ने उससे शादि के लिए कहा तो उसने टालना शरु कर दिया। जब महिला ने दबाब डाला तो दिल्ली में दोनो ने 16 जनवरी 2020 में विवाह कर लिया साथ ही विवाह करते ही दरोगा ने पत्नि को छोड़ कहा मैने दुष्कर्म के मुकदमे से बचने के लिए शादि रचाई थी अब मेरा तुमसे कोई लेना देना नहीं है। महिला ने मामले की शिकायत मुरादाबाद के तत्कालीन एसएसपी अमित पाठक से की। महिला थाने में मुकदमा लिखा गया। वह धमकी दे रहा है। साथ ही पांच लाख रुपये व कार की मांग कर रहा है। एडीजी से भी मामले की शिकायत की गई है।