विश्वास ट्रेडिंग फर्म निदेशकों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

 

  1. लखनऊ के विभूतिखंड थाने में विश्वास ट्रेडिंग फर्म निदेशकों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज हुआ है। आरोप है कि कंपनी ने मल्टीलेवल मार्केटिंग के सिद्धांत पर काम कर कर रकम दोगुनी करने के नाम पर 45 लाख रुपए हड़प लिए। पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

 

चार लोगों के साथ हुई धोखाधड़ी, जांच शुरू

विभूतिखंड थाना प्रभारी आशीष मिश्र ने बताया कि चौक छाछीकुंआ निवासी अंकित यादव ने विश्वास ट्रेडिंग फर्म निदेशकों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है। उनका आरोप है कि 2018 में बाराबंकी निवासी चंद्रमोहन वर्मा और दिलीप वर्मा ने विश्वास ट्रेडिंग फर्म के बारे में बताया था। उन्होंने कहा कि कंपनी से से जुड़ कर खुद भी मुनाफा कमा सकते हो। अंकित की बातों में आकर मल्टीलेवल मार्केटिंग के सिद्धांत पर काम करने वाली विश्वास ट्रेडिंग में 13 लाख 50 हजार रुपए का निवेश किया था। इसी तरह अलीगंज थाना क्षेत्र के बड़ा चांदगंज निवासी इसरार अहमद ने दस लाख, मड़ियांव थाना क्षेत्र के केशवनगर निवासी दीपक सिंह ने दस लाख 30 हजार और राजाजीपुरम निवासी अनिल सिंह ने 10.30 लाख रुपए निवेश किए थे।

 

कंपनी के निदेशक शंकर गायन उर्फ मिठ्ठू, विश्वजीत

विश्वास, भरम मोदी, विशाल विश्वास, रोहित यादव, संजय गुप्ता व अन्य लोगों ने मिल कर साल भर तक रुपए जमा करने पर 16 प्रतिशत ब्याज व हर महीने एक लाख पर चार लाख रुपए देने का भरोसा दिया था। जबकि दिए एक भी रुपए नहीं। पैसा मांगने पर करने पर कंपनी के लोगों ने गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी। आरोपियों के खिलाफ साक्ष्य एकत्र किए जा रहे हैं। साक्ष्य के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।