Wednesday, July 24, 2024
उत्तर प्रदेशक्राइमक्षेत्रीय ख़बरें

दरोगा भर्ती परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने के आरोपी 14 और अभ्यर्थी शामिल

लखनऊ: महानगर पुलिस ने बुधवार देर रात दरोगा भर्ती की ऑनलाइन परीक्षा में फर्जीवाड़ा करके पास होने वाले 14 अन्य अभ्यर्थियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस इस मामले में पहले भी 18 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है।

प्रभारी निरीक्षक महानगर दिनेश चंद्र मिश्रा के मुताबिक, उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती बोर्ड की ओर से 12 ननंबर 2021 से 2 दिसंबर 2021 तक ऑनलाइन परीक्षा प्रदेश के विभिन्न केंद्रों पर आयोजित की गई थी। इस परीक्षा में कुछ अभ्यर्थियों ने अनुचित साधनों का प्रयोग कर परीक्षा पास की। जांच में सामने आया है कि ऑनलाइन परीक्षा पास की। जांच में सामने आया कि ऑनलाइन परीक्षा में सॉल्वर भी बैठाए गए। परीक्षा में पास होने वाले अभ्यर्थियों को शारीरिक परीक्षा और दस्तावेजों के सत्यापन के लिए पुलिस लाइन बुलाया गया था। इसके बाद पुलिस भर्ती बोर्ड के अधिकारियों ने एक अन्य केस महानगर थाने में दर्ज कराया था।

इस मामले में बुधवार को महानगर पुलिस ने हाथरस निवासी विजय कुमार, नागेश, माल निवासी हिमांशु, सुल्तानपुर निवासी आदर्श त्रिपाठी, शामली निवासी अनूप कुमार, बुलंदशहर निवासी रोहित मेवाती, मैनपुरी निवासी रजत चौहान, बुलंदशहर निवासी टोनी कुमार, गाजीपुर निवासी विजय पटेल, बिहार निवासी मनीष कुमार और फिरोजाबाद जनपद निवासी आदित्य राज शर्मा को गिरफ्तार कर लिया।
प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि पकड़े गए सभी आरोपित लखनऊ पुलिस लाइंस अपने दस्तावेज के सत्यापन के लिए आए थे। इस दौरान ही भर्ती बोर्ड से जुड़े हुए लोगों ने सभी को पकड़कर महानगर पुलिस के हवाले कर दिया। महानगर पुलिस इस मामले में ऑनलाइन परीक्षा कराने वाले केंद्रों के संचालकों समेत अन्य लोगों की तलाश में जुटी है। इससे पहले दरोगा भर्ती परीक्षा में शामिल 18 अभ्यर्थियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।