Thursday, July 25, 2024
उत्तर प्रदेशक्षेत्रीय ख़बरेंदिल्लीदेशराजनीतिराज्य

लॉकडाउन में शराब की दुकानें खुलते ही लग गयी भीड़, नियमों की उड़ी धज्जियां

मुरादाबाद: देश भर में कोरोना महामारी की दूसरी लहर जमकर कर कहर बरपा रही है। जिसका व्यापक असर सूबे में भी देखने को मिल रहा है। कोरोना वायरस की चेन तोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने पूरे प्रदेश में लॉकडाउन लागू किया है। लॉकडाउन के 10 दिन बाद आज से कुछ शहरों में शराब की दुकानें खोलने के आदेश दिए गए। जिसके बाद शराब के शौकीनों की तो लौटरी ही लग गयी। जहाँ भी शराब की दुकानें थीं वहां लम्बी-लम्बी लाइनें लग गयीं कोई कोरोना गाइड-लाइन्स का पालन नहीं हुआ।

नहीं हुआ पालन

मुरादाबाद में जैसे ही शराब की दुकानों के खुलने की ख़बर शराब के शौकीनों को लगी, वो फ़ौरन ही शराब की दुकानें खुलने के बाद वहां लंबी लंबी लाइनें में खड़े नजर आए, लेकिन सरकार ने जो आदेश दिए थे कि शराब की दुकानों पर कोविड गाइडलाइंस का पूरा पालन किया जाएगा। उन आदेशों का यहां पर पालन होता हुआ नज़र नहीं आया। लोग एक दूसरे से मिल कर खड़े हुए नजर आए और और शराब लेने की जल्दबाजी में वो किसी भी नियम का पालन नही कर रहे थे। कैमरा देखकर ज़रूर थोड़ा सा दूर खड़े होने के नियमों का पाठ दुकानदार बताते नज़र आये लेकिन फिर भी किसी ने भी नियमो का पालन नही किया। अगर इस लापरवाही के चलते कोई कोरोना संक्रमित व्यक्ति इस भीड़ में शामिल हो गया तो कितने लोग इस संक्रमण का शिकार हो जाएंगे इसकी किसी को कोई परवाह नहीं है।

लोग नाराज

यही नहीं कई जगह तो पुलिस भी दूरी के साथ लाइन लगवाती दिखी। वहीँ आम लोग भी अचानक शराब की दुकान खोले जाने से नाराज दिखे क्यूंकि जब अभी भी महामारी से राहत नहीं है और बड़ी संख्या में बाजार और दुकानें बंद हैं ऐसे में शराब की दुकानें खोलना कितना जायज है।